Latest

6/recent/ticker-posts

धावाडंगाल गांव दो पक्षों के बीच झड़प का मामला, तनाव बरकरार पुलिस लगाई कैंप


धावाडंगाल गांव दो दो पक्षों के बीच झड़प

महेशपुर (पाकुड़) : महेशपुर  के धावाडंगाल गांव दो दो पक्षों के बीच झड़प थमने का नाम नहीं ले रहा है। शहरग्राम गांव में अभी भी तनाव का माहौल है। धावाडंगाल के ग्रामीणों ने रविवार को भी बैठक हुई काफी संख्या में पुरुष व महिलाएं शामिल हुए। टीके की पिटाई करने वाले युवक के खिलाफ एससी-एसटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज करने की मांग की गई। ग्रामीणों ने पुलिस प्रशासन से मांग की है कि 48 घंटे के अंदर दोषियों को गिरफ्तार किया जाए। मामला नहीं शांत होने पर पुलिस कैंप कर रही है 

इसके पूर्व ग्रामीणों ने बीते शनिवार को शहरग्राम गांव में पारंपरिक हथियार के साथ हमला बोल दिया था। इससे कई लोग जख्मी हो गए थे। ग्रामीण प्रधान मरांडी, देवान सोरेन, सोम मुर्मू, बाबुधन सोरेन, माझी सोरेन, सुनिराम सोरेन, किस्टु मरांडी सहित अन्य ने बताया कि जबतकमामले के दोषी दिनेश साहा के खिलाफ कार्रवाई नहीं होगी तबतक आंदोलन जारी रहेगा। 

ग्रामीणों ने कहा कि आदिवासियों पर अत्याचार बंद हो।ग्रामीणों के अनुसार बैठक में सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया है कि दोषियों पर कार्रवाई करने को लेकर एक हस्ताक्षरयुक्त आवेदन पुलिस अधीक्षक को सौंपा जाएगा। इसके बाद भी अगर कार्रवाई नहीं होती है तो आगे की रणनीति बनाई जाएगी। थाना प्रभारी दिनेश प्रसाद चौरसिया ने कहा कि फिलहाल गांव में शांति है। शहरग्राम चौक के पास पुलिस कैंप कर रही है। 

गांव में दूसरे दिन भी पसरा रहा सन्नाटा   धावाडंगाल गांव के ग्रामीणों के कारण शहरग्राम गांव में दूसरे दिन यानि रविवार को भी सन्नाटा छाया रहा। गांव में स्थित सभी दुकानें बंद रही। लोग अपने-अपने घरों में दुबके थे। धावाडंगाल गांव में ग्रामीणों की बैठक की सूचना के बाद शहरग्राम में भय का माहौल बन गया। दुकान व घर के दरवाजे बंद कर दिए गए थे। हालांकि शहरग्राम चौक पर पुलिस का पहरा लगा था। गांव में तनाव को लेकर पुलिस लगातार नजर बनाए रखी है 

पुलिस जांच में जुटी :

जख्मी युवक के बयान पर दर्ज हुई प्राथमिकी, जांच में जुटी पुलिसधावाडंगाल गांव निवासी टीके सोरेन के लिखित बयान पर महेशपुर पुलिस ने दिनेश साहा के खिलाफ रविवार को एससी-एसटी एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया। टीके ने कहा कि घटना के दिन वह अपने दोस्त विश्वनाथ हांसदा के साथ घर लौट रहा था। बारिश शुरू हो जाने के कारण हमलोग दिनेश साहा के घर के पास रुक गए। इसी बीच दिनेश ने जातिसूचक गाली देते हुए मारपीट शुरू कर दी। इससे वह जख्मी हो गया।

Post a Comment

0 Comments